Home न्यूज़ ब्रेस्ट फीडिंग है जरूरी

ब्रेस्ट फीडिंग है जरूरी

31
0
SHARE

मैं 23 वर्षीय कॉलेज में पढऩे वाली छात्रा हूं। समस्या यह है कि कुछ महीने पहले अपने एक सहपाठी के कहने पर इमोशनल होकर हमने शारीरिक संबंध बना लिए। मेरे मना करने के बाद भी वह नहीं माना और कहने लगा कि इससे कुछ गडबड नहींहोगी। उस दौरान भावावेश के कारण डिस्चार्ज भी अंदर चला गया। यह बात डर के कारण मैंने किसी को नहीं बताई लेकिन इस घटना के बाद मेरी वजाइना के बाहरी हिस्सों में खुजली और पानी जैसा पदार्थ निकलने लगा है। मेरी योनि के बाहरी हिस्से में जलन के कारण लाली और सूजन बढ गई है। पीरियड्स भी अनियमित हो गए हैं। मुझे क्या करना चाहिए? एम.सिंह, देहरादून -आपके पीरियड अनियमित हैं या फिर आपने पीरियड मिस कर दिया है, यह आपने साफ नहींकिया है। अगर पीरियड मिस कर दिया है तो आपको यूरिन प्रेग्नेंसी टेस्ट कर लेना चाहिए। इसके अलावा जिस तरह के लक्षण की बात आप कर रही हैं, उससे लगता है कि आपको वजाइनल इन्फेक्शन हो गया है। इसके लिए जरूरी है कि आप वजाइना की साफ-सफाई का खास खयाल रखें, साथ ही डॉक्टर से मिलकर जरूरी जांच भी कराएं।

मेरी उम्र 22 वर्ष है। पिछले एक साल से मुझे ल्यूकोरिया हो गया है। पीरियड्स अनियमित हैं। डिस्चार्ज में दुर्र्गंध भी आती है। आजकल वजन भी बढ गया है। मुझे क्या करना चाहिए? अमिता, दिल्ली -अगर आपको ल्यूकोरिया है और आप सेक्सुअली ऐक्टिव नहीं हैं तो आपको इन्फेक्शन की संभावना नहीं के बराबर है। ल्यूकोरिया (वजाइनल डिस्चार्ज) नॉर्मल हो सकता है लेकिन अगर आप सेक्सुअली ऐक्टिव हैं तो यह इन्फेक्शन का साइन हो सकता है। इसके लिए जरूरी है कि आप किसी डॉक्टर से संपर्क करें। अनियमित पीरियड और तेजी से वजन बढऩे का कारण हॉर्मोनल प्रॉब्लम हो सकती है। पॉलीसिस्टिक ओवेरियन सिंड्रोम इस समस्या का एक कॉमन कारण हो सकता है। ऐसी अवस्था में अपनी सेहत और एक्सरसाइज पर ध्यान दें। अगर आप अपना वजन कम करने में सफल हो जाएं तो इस समस्या को कंट्रोल में ला सकती हैं, जिससे आपके पीरियड नियमित हो जाएंगे। यदि आपको कुछ महीनों में इसका कोई परिणाम न मिले तो डॉक्टर से सलाह लें क्योंकि इसके दूरगामी प्रभाव हो सकते हैं जैसे इंफर्टिलिटी, डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर।

मेरी उम्र 25 वर्ष है। लगभग एक साल से पीरियड्स के दौरान उल्टियां होती हैं। तीन-चार माह से मैं बहुत कमजोर भी हो गई हूं। मुझे क्या करना चाहिए? अनामिका, कानपुर -आपकी समस्या से लगता है कि आपका खानपान ठीक नहीं है। आप पौष्टिक आहार लें। नियमित व्यायाम करें। हो सकता है कि आपको उल्टियां एसिडिटी की वजह से होती हों। अगर ऐसा है तो आप पीरियड के दिनों में थोडी-थोडी मात्रा में हलका-फुलका खाना खा सकती हैं। अगर उल्टी बहुत ज्य़ादा होती हो तो दवा ले लें। अगर इससे भी समस्या का समाधान न हो तो डॉक्टर से जांच कराएं।

मेरी आयु 30 वर्ष है। मैं चार माह से प्रेग्नेंट हूं। मेरा वजन 47 किलो है। समस्या यह है कि मेरा वजन नहीं बढ रहा है। अल्ट्रासाउंड से पता चला है कि बच्चे की ग्रोथ बहुत कम है। मुझे भूख भी कम लगती है। मेरी समस्या का उचित समाधान करें। रीमा सिंह, पटना -अगर शुरुआती महीनों में आपका वजन नहीं बढा है तो घबराने की बात नहीं है। शुरुआती महीनों में ऐसा होना नॉर्मल है। आपके लिए संतुलित आहार लेना बेहद जरूरी है। आप अपने आहार में प्रोटीन जैसे अंकुरित चने, मूंग, एक कटोरी दाल और दो ग्लास दूध जरूर लें। इसके साथ ही कार्बोहाइड्रेट जैसे आलू, चावल आदि थोडी मात्रा में जरूर लें। दिन में तीन समय खाना खाने से अच्छा है कि आप कई बार में थोडा-थोडा खाना खाएं। डॉक्टर से नियमित संपर्क में रहें।

मैं 21 वर्षीय अविवाहित हूं। मेरा वजन 47किलो है। मेरे पीरियड अनियमित हैं। पहले दिन ब्लीडिंग होती है और दूसरे दिन बंद हो जाती है। पीरियड के हफ्ते भर पहले से मेरी कमर और सिर में तेज दर्द रहता है। कहींयह कोई गंभीर बीमारी का लक्षण तो नहीं? अंजलि, अलीगढ -पीरियड में मामूली से ज्य़ादा दर्द होना और हफ्ते भर पहले से दर्द शुरू हो जाना एंड्रोमीट्रिओसिस का लक्षण हो सकते हैं। इसके लिए जरूरी है कि पेल्विक अल्ट्रासाउंड कराया जाए। किसी स्त्री रोग विशेषज्ञ से जांच कराएं। पौष्टिक आहार और नियमित व्यायाम से आपको काफी राहत मिलेगी।

मेरी उम्र 35 वर्ष है। मेरे यूट्रस में गांठ है। वजाइना से दुर्गंधयुक्त पानी और कभी-कभी खून भी आता है। डॉक्टर ने ऑपरेशन के लिए कहा है। क्या करूं उचित सलाह दें? सीमा सिंह, लखनऊ -आप देर मत कीजिए। डॉक्टर की राय के अनुसार शीघ्र ऑपरेशन करा लीजिए।