Home चुनाव BMC चुनावः 227 सीटों के लिए मतदान जारी, शिवसेना की प्रतिष्ठा दांव...

BMC चुनावः 227 सीटों के लिए मतदान जारी, शिवसेना की प्रतिष्ठा दांव पर

90
0
SHARE

बीएमसी चुनाव के लिए मतदान जारी है। इस चुनाव में सत्तासीन शिवसेना की साख दांव पर लगी हुई है।
मुंबई(एएनआई)। बीएमसी की 227 सीटों समेत 10 महानगरपालिकाओं के लिए मतदान जारी है। स्थानीय निकाय चुनाव में मतदाताओं में उत्साह देखा जा रहा है। आम और खास लोग बीएमसी चुनाव में शिरकत कर रहे हैं। संघ प्रमुख मोहन भागवत ने नागपुर में अपने मत का इस्तेमाल किया, वहीं टीना अंबानी ने मुंबई में अपना मत डाला। इसके साथ भाजपा नेता शाइना एनसी साइकिल पर सवार होकर पोलिंग बूथ पहुंची लेकिन वोटर लिस्ट में वो अपना नाम ही नहीं ढूंढ पाईं।
तो वहीं एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया और महालक्ष्मी (पश्चिम) में अपना वोट डाला।
महाराष्ट्र के अलग-अलग शहरों में शांतिपूर्ण ढंग से स्थानीय निकायों का चुनाव कराया जा रहा है। बीएमसी का चुनाव इसलिए भी महत्वपूर्ण है क्योंकि शिवसेना और भाजपा एक दूसरे के आमने-सामने हैं।
यह चुनाव मुख्यमंत्री देवेंद्र फणनवीस और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे की प्रतिष्ठा का प्रश्न बन चुका है। यह चुनाव फणनवीस ओर ठाकरे के लिए काफी महत्व रखता है, जिन्होंने आक्रामक तरीके से पार्टी का नेतृत्व किया है और धुंआधार अभियान चलाया है। दोनों दल दो दशक में पहली बार अलग-अलग स्थानीय चुनाव लड़ रहे हैं।कांग्रेस, एनसीपी और मनसे भी चुनावी मैदान में हैं।
बीएमसी चुनावः 227 सीटों पर मतदान जारी, दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर
करीब 1.95 करोड़ मतदाता दस महानगरपालिकाओं के लिए प्रतिनिधियों को चुनेंगे। वहीं 1.80 लाख से अधिक मतदाता जिला परिषद और पंचायत समिति के चुनाव में अपने मताधिकार का इस्तेमाल करेंगे। राज्य निर्वाचन आयुक्त जीएस सहारिया ने बताया कि कुल 3.77 करोड़ मतदाता मुंबई समेत शहरी और ग्रामीण इलाकों में 17,331 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे।
यह भी पढ़ें: बीएमसी चुनाव: 690 करोड़ की संपत्ति के मालिक पराग शाह सबसे अमीर उम्मीदवार
राज्य निर्वाचन आयुक्त ने बताया कि महानगरपालिकाओं के 1,268 सीटों के लिए 9,208 चुनावी मैदान में हैं। 11 जिला परिषदों के 654 सीटों के लिए 2,956 उम्मीदवार चुनाव लड़ रहे हैं. कुल 118 पंचायत समितियों के 1,288 सीटों पर 5,167 उम्मीदवार अपनी किस्मत आजमा रहे हैं। इन चुनावों के लिए कुल 43,160 मतदान केंद्र बनाए गए हैं।